अपने प्रापण कार्य-व्यव्हार में पारदर्शिता, समानता व प्रतिस्पर्धा सुनिश्चित करने के उद्देश्य से सरकारी निदेशानुसार एनपीसीआईएल में सत्यनिष्ठा समझौता (आईपी) क्रियान्वित किए जाने का निर्णय लिया गया है। इस सत्यनिष्ठा समझौता में, संभावित संविदाकारों/ बोलीदाताओं एवं क्रेता/ सैद्धांतिक प्रतिबद्धता देने वाले व्यक्तियों/ दोनों पक्षों के अधिकारियों द्वारा, संविदा के किसी भी पहलू पर किसी भ्रस्ट प्रभाव का प्रयोग न करने संबंधी करार किए जाने की परिकल्पना की गई है।

यह सत्यनिष्ठा समझौता, रु. 10 करोड़ व इससे अधिक मूल्य वाली सभी निविदाओं पर लागू होगी। बोली प्रक्रिया व संविदा निष्पादन उत्तरदायित्व का निर्वहन एक स्वतंत्र बाह्य मॉनीटर (आईईएम) द्वारा किया जाएगा और वह एनपीसीआईएल में भ्रस्टाचार, घूसखोरी या अन्य किसी भी प्रकार की अनैतिक रीतियों को रोकने हेतु, इस सत्यनिष्ठा समझौता के अनुपालन के प्रति उत्तरदायी होंगे। इस सत्यनिष्ठा समझौता के अनुपालन व इसकी प्रभावशीलता सुनिश्चित करने के लिए एनपीसीआईएल द्वारा निम्नलिखित को स्वतंत्र बाह्य मॉनीटर (आईईएम) के रूप में नियुक्त्त किया गया है:-

  • श्री एम. पी. जुनेजा, अतिरिक्त सदस्य (सेवानिवृत्त), पूर्व-सीटीई, सीवीसी (mp.juneja@yahoo.com)
  • श्री अरुण चंद्र वर्मा, आईपीएस (सेवानिवृत्त) (acverma1@hotmail.com)

 

किसी भी निविदा के संबंध में किसी प्रकार के विवाद(विवादों)/ शिकायत(शिकायतों) के मामलों को बोलीदाता द्वारा एनपीसीआईएल में 'नोडल अधिकारी' के समक्ष अथवा सीधे तौर पर स्वतंत्र बाह्य मॉनीटर से निम्नलिखित पते या उनकी ईमेल पते पर, उक्त आईईएम के समक्ष प्रस्तुत किया जा सकता है: 

कंपनी सचिव,
न्यूक्लियर पावर कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड
16 वीं तल, केंद्र - I, विश्व व्यापार केंद्र,
कफ परेड, कोलाबा, मुंबई - 400 005, भारत.