श्री प्रकाश म्हास्के
निदेशक

श्री प्रकाश म्हास्के , केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण (सीईए), ऊर्जा मंत्रालय, भारत सरकार के अध्यक्ष एवं सदस्य ( विद्युत प्रणाली) हैं। आपके पास सदस्य (ग्रिड प्रचालन एवं वितरण) पद का अतिरिक्त प्रभार भी है। आपने, सीईए, सीईआरसी व एनआरपीसी सहित भारत सरकार की विभिन्नस एजेंसियों में 34 वर्षों से अधिक अवधि तक अपनी सेवाएं दी हैं।

श्री म्हास्के ने वर्ष 1982 में विश्वेशरैया रीजनल कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, नागपुर विश्वकविद्यालय से अभियांत्रिकी में स्नाेतक पाठ्यक्रम पूर्ण किया था। वर्ष 1984 में आपने, यूपीएससी के कंबाइंड इंजीनियरिंग सर्विसेज़ परीक्षा के माध्यवम से सीईए की सेंट्रल पॉवर इंजीनियरिंग सर्विसेज़ में समूह ‘क’ के अधिकारी के रूप में कार्य भार ग्रहण किया।

आपने पावर सेक्टरर के सभी क्षेत्रों, जैसे उत्पालदन, पारेषण, ग्रिड प्रचालन व विद्युत नियमन आदि क्षेत्रों में कार्य किया है। आपको, तकनीकी-आर्थिक आकलन व मॉनीटरन, ग्रिड प्रचालन व विनियामकीय मुद्दों सहित पारेषण योजनाओं के क्षेत्र में व्यापक अनुभव है।

आप केंद्रीय विद्युत विनियामक आयोग (सीईआरसी) में भी कार्यरत रहे हैं और प्रशुल्कक विनियमों : उपलब्धपता आधारित प्रशुल्क् (एबीटी), भारतीय विद्युत ग्रिड कोड, ओपेन एक्सेपस, विद्युत विपणन, पारेषण लाइसेंस प्रदान करने आदि विभिन्नय विनियमों को तैयार करने संबंधी कार्यों में भी रत रहे हैं।

आप, नॉर्दन रीजनल पॉवर कमेटी के सदस्य सचिव थे और ग्रिड प्रचालन, संरक्षण एवं वाणिज्यिक मुद्दों के समाधान, संरक्षित, सुरक्षित व आर्थिक रूप से व्यवहार्य ग्रिड प्रचालन तथा ग्रिड कार्यनिष्पाेदन के प्रति उत्तरदायी थे।

आपको दिनांक 25 जून, 2019 से न्यूाक्लियर पॉवर कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के निदेशक मंडल में नियुक्तन किया गया है। कार्पोरेट मामला मंत्रालय से निदेशक पहचान संख्या (डीआईएन) आबंटित किए जाने के पश्चा्त,निदेशक पद के आपके उत्तमरदायित्वस दिनांक 17 जुलाई, 2019 से प्रभावी हुए हैं।